ऐसी अबूझ शिला, जिसकी प्राचीनता व प्रकृति तक नहीं बता पाए पुरातत्व विभाग के अधिकारी

  |   Vidishanews

विदिशा. संस्कृति एवं पर्यटन केंद्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद पटेल ने रविवार को उदयगिरी का भ्रमण किया। इस दौरान उन्होंने कई गुफाओं व प्रतिमाओं को देखा व यहां हो रहे क्षरण को रोकने के लिए कहा।

इस दौरान पुरातत्व विभाग के इंजीनियर से उदयगिरी के पत्थरों की प्रकृति पूछी तो वह नहीं बता पाए। इसी तरह नृरसिंह शिला की प्राचीनता भी पुरातत्व विभाग के अधिकारी नहीं बता पाए।

अपने भ्रमण के दौरान उन्होंने विभिन्न गुफाओं और उनमें स्थित प्रतिमाओं को देखा। वाराह की विशाल प्रतिमा देखी। गुफा नंबर-13 में शेषनाग पर विष्णु प्रतिमा वहीं समीप शिला पर शंख लिपि, गुफा नंबर 7 में ब्रह्मलिपि लेख देखे। इस दौरान गुफाओं व लिपियों के क्षरण को रोकने के लिए उपाय करने के लिए पुरातत्व अधिकारियों से कहा।...

फोटो - http://v.duta.us/AUcYBgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/MculzwAA

📲 Get Vidisha News on Whatsapp 💬