कार्रवाई में भेदभाव संत समाज आक्रोशित

  |   Jaipurnews

जयपुर संत समाज ने शास्त्रीनगर में सात साल की बच्ची के साथ हुए बलात्कार की निंदा करते हुए दोषी के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की मांग की है। राघवाचार्य महाराज के नेतृत्व में सोमवार को राज्यपाल को दिए ज्ञापन में संत समाज में इस प्रकरण के बाद धर्म विशेष के लोगों को निशाना बनाए जाने पर चिंता प्रकट की है।

राज्यपाल को ज्ञापन देने के लिए सोमवार को जयपुर संत समाज का एक शिष्टमंडल राघवाचार्य महाराज के नेतृत्व में राजभवन गया। ज्ञापन में जयपुर शहर के शास्त्री नगर इलाके में एक बच्ची के साथ हुए बलात्कार की घटना की निंदा की गई। ज्ञापन में दोषी को कठोरतम सजा दिलाने की मांग की गई। ज्ञापन में कहा गया कि दुष्कर्म की घटना के बाद एक समुदाय विशेष के लोगों ने एकत्रित होकर समाज विशेष के घरों में घुसकर तोडफ़ोड़ तथा मारपीट की। ज्ञापन में कहा गया कि इससे भय तथा आतंक का वातावरण बनाया गया। संतों ने कहा कि इस प्रकरण के बाद नागरिकों की जाति व धर्म पूछकर मारपीट की गई। प्रशासन की ओर से ऐसे लोगों के खिलाफ कोई भी कार्रवाई नहीं की गई। संत समाज ने ज्ञापन में पीडि़त पक्षकारों को हुए नुकसान का मुआवजा देने का आग्रह किया गया। ज्ञापन देने के बाद राघवाचार्य महाराज ने कहा कि प्रकरण के बाद समुदाय विशेष के लोगों की ओर से देशविरोधी नारेबाजी की गई, जो निंदनीय है। उन्होंने कहा कि देशविरोधी नारेबाजी करने वालों के खिलाफ भी सख्ती जरूरी है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/s8mXWgAA

📲 Get Jaipur News on Whatsapp 💬