गड्ढों में तब्दील 42 लाख की सड़क

  |   Sidhinews

मझौली. नवनिर्मित बायपास वाहन चालकों के लिए जोखिम भरा है। दो किमी लंबी इस सड़क पर आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। लेकिन विभाग व प्रशासनिक अमला कोई कदम नहीं उठा रहा। मझौली मड़वास को जोडऩे वाला यह मार्ग वार्ड-4 व 5 के बीच बाजार मार्ग को काटकर 42 लाख की लागत से बनाया गया था।

स्थानीय सूत्रों की मानें तो संविदाकार ने 10 दिन के अंदर सड़क मार्ग तैयार कर विभाग के हैंडओवर कर दिया था। लेकिन कई तकनीकी बिंदुओं की अनदेखी की गई, जिसका खामियाजा आज वाहन चालकों को हादसे के रूप में भुगतना पड़ रहा है। पत्रिका ने निर्माण के समय ही खबर प्रकाशित कर इस संबंध में विभाग को चेताया था, लेकिन उपयंत्री रामनिवास गुप्ता ने संविदाकार से साठगांठ कर उक्त सड़क मार्ग की गुणवत्ता को नजरअंदाज कर निर्माण कार्य करा दिया गया था। जिस कारण चंद दिनों बाद ही सड़क कई जगहों से उखड़ गई और बायपास मार्ग अब हादसों की सड़क के नाम से मझौली में फेमस हो चुकी है। अगर समय रहते ही जिम्मेवारों द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया गया तो आने वाले दिनों में इस संकीर्ण व गड्ढों युक्त सड़क में बहुत बड़ा हादसा होने की आशंका ग्रामीणों ने ब्यक्त की है।...

फोटो - http://v.duta.us/68P63wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/3L6RFAAA

📲 Get Sidhi News on Whatsapp 💬