दूल्हा सुबह पहुंचा आचार्य के विहार में, शाम को लिए सात फेरे

  |   Ratlamnews

रतलाम। शाम को सात फेरे के साथ नया जीवन शुरू करने की तैयारी हो रही थी, इससे पहले दूल्हे ने सुबह संतश्री को विहार में जाकर सेवा का नया जज्बा पेश किया। साथियों के साथ संत के विहार में दूर तक यात्रा कर शाम को वापस मंडप में सात फेरे के लिए तैयार हुआ। इस अनूठी सेवा को देख सभी ने दूल्हा बने अंकुश की तारीफ की।

जैन साधु-साध्वियों के साथ विहार के दौरान होने वाले हादसों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य को लेकर करीब 15 माह पहले शहर के कुछ युवाओं ने विहार सेवा का गठन किया और शहर की और आने वाले हर जैन साध व साध्वियों को शहर की सीमा में लाने तथा सीमों से पुन: शहर की सीमा से बाहर तक सकुशल छोडऩे के लिए विहार सेवा समिति के सदस्य तत्पर रहते है। ऐसी ही एक कर्तव्यनिष्ठा रविवार को शहर के युवा राहुल तलेरा ने दिखाई है। रविवार की शाम को राहुल की शादी थी, शाम को ही मेहमानों का रिशेप्सन था, इसके बावजूद भी राहुल ने विहार सेवा के प्रति अपनी निष्ठा के चलते रविवार को सुबह पांच बजे दादावाड़ी से विहार कर रहे आचार्य जयानंदसूरिश्वर के साथ विहार के शामिल हुआ।...

फोटो - http://v.duta.us/8-MLiQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/iXQd2QAA

📲 Get Ratlam News on Whatsapp 💬