नौकरी बचाने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता चुका रहीं भवन किराया

  |   Sikarnews

सीकर. महिला एवं बाल विकास विभाग के तहत प्रदेश के करीब 18 से 20 हजार आंगनबाड़ी केंद्र आज भी किराए के भवनों में संचालित है। इन भवनों के किराए के लिए आंगनबाड़ी कार्मिक सालभर से विभाग के चक्कर लगाकर थक चुकी है। गांवों में तो दूर पंचायत समिति मुख्यालय एवं शहरी इलाकों में संचालित केंद्रों को भी प्रयाप्त किराया नहीं मिल रहा हैं। बानगी यह है कि इनमें से अधिकांश महिला कार्मिक अपनी नौकरी बचाने के लिए अपने मानदेय में से कुछ हिस्सा किराए में खर्च कर रही हैं। किराए के अभाव में कुछ महिला कार्मिक नियमों को दरकिनार करते हुए केंद्र अपने घरों में खोलने पर भी मजबूर हैं। इस कारण कई आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के सामने घर खर्चा चलाना भी चुनौती बना हुआ है।...

फोटो - http://v.duta.us/a26WvAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/8GKUCwAA

📲 Get Sikar News on Whatsapp 💬