बंदर से बचने की कोशिश में छत से गिरी महिला की मौत

  |   Budaunnews

उझानी (बदायूं)। रामलीला नगला मोहल्ले में छत पर मौजूद महिला को बंदरों ने घेर लिया। बंदर जब उसके ऊपर हमलावर हुए तो वह बचने को आगे बढ़ी लेकिन पैर फिसल जाने से वह दो मंजिला मकान के ऊपर से गिर पड़ी। महिला की इलाज को ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई।

हादसा रविवार शाम को रामलीला नगला मोहल्ले में हुआ। मोहल्ले के कैलाश यादव की पत्नी धनवती (50) के घर के आंगन में पहुंचे बंदर को भगाने के लिए छत पर चढ़ गई। दूसरी मंजिल पर पहुंचते ही उसे बंदरों ने घेर लिया। उस समय घर में कोई नहीं था। बंदरों से बचने की कोशिश में पैर फिसलते ही धनवती दो मंजिल मकान की छत से पिछवाड़े गिर पड़ीं। पड़ोस में सड़क निर्माण में जुटे लोगों ने जब धड़ाम की आवाज सुनी तो वह मौके पर दौड़ आए। पति समेत घरवाले धनवती को लेकर निजी क्लीनिक पर पहुंचे लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई। इसकी भनक लगते ही मौके पर मोहल्ले के लोगों की भीड़ लग गई। मृतका के परिजनों की मानें तो धनवती को लेकर वह तीन निजी क्लीनिकों पर भी पहुंचे लेकिन डॉक्टर नहीं मिले। दो क्लीनिकों के नर्सिंग स्टाफ ने तो उन्हें यह कहकर टरका दिया कि डॉक्टर बाहर हैं। इसके चलते घरवालों के लिए करीब एक घंटा तक क्लीनिकों के चक्कर काटने पड़े।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/8-qSAgAA

📲 Get Budaun News on Whatsapp 💬