अंग्रेजी के शिक्षक नहीं बता सके फरवरी की स्पेलिंग

  |   Rampurnews

रामपुर। बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से एबीआरसी के चयन के लिए परीक्षा के बाद साक्षात्कार आयोजित किया गया। इस दौरान शिक्षकों से उनके विषयों से जुड़े सवाल जवाब किए, जहां अपने विषय के सवालों के भी उत्तर नहीं दे सके। यहां तक कि अंग्रेजी विषय के एक तो शिक्षक फरवरी माह की स्पेलिंग तक नहीं बता सका।

जिले में एबीआरसी के 35 पद हैं। इन पदों पर विषय विशेषज्ञ को तैनात किया जाता है। शिक्षक का एबीआरसी रहते हुए स्कूलों का निरीक्षण एवं सूचनाओं का आदान प्रदान करना होता है। यहां एक साल पहले ही एबीआरसी का चयन किया गया था, लेकिन उन्होंने अपना कार्य सही तरीके से नहीं किया। इसके चलते जिलाधिकारी ने सभी एबीआरसी को हटा दिया। अब इनके चयन के लिए दोबारा परीक्षा आयोजित की गई, जिसमें 138 शिक्षक एवं शिक्षिकाएं शामिल हुए। परीक्षा के बाद साक्षात्कार आयोजित किए गए। इस दौरान कमेटी ने अंग्रेजी विषय के एक अध्यापक से फरवरी की स्पेलिंग पूछी, जहां शिक्षक जवाब नहीं दे सका। जबकि, भूगोल के एक शिक्षक ने देश में राज्यों की संख्या के बारे में पूछा तो उस शिक्षक ने राज्यों की संख्या 28 बताई, लेकिन यह नहीं बता सका कि कोई बदलाव हुआ है अथवा नहीं। इसके अलावा शिक्षकों से कार्य के बारे में पूछा तो 40 शिक्षकों ने बताया कि बच्चों पर ध्यान देंगे, जबकि 20 शिक्षकों ने बताया कि कमजोर बच्चों पर ध्यान देंगे। बाकि, सभी शिक्षकों ने उल्टे सीधे जवाब दिए। किसी ने ड्रेस तो किसी ने मिड्डे मील पर ध्यान देने की बात की।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/5Ec4QwAA

📲 Get Rampur News on Whatsapp 💬