एक साल से बंद उत्कर्ष योजना

  |   Sawai-Madhopurnews

सूरवाल. जिले के 110 सरकारी स्कूलों में छात्रों को कंप्यूटर शिक्षा उपलब्ध कराने तथा नवाचारों के माध्यम से ज्ञान को स्थायी बनाने के लिए उत्कर्ष योजना शुरू की गई थी, लेकिन सरकारी तौर पर फंडिंग व्यवस्था नहीं हो पाने से अब इस योजना को बंद कर दिया गया है। फिलहाल स्थिति यह है कि कई स्कूलों में कंप्यूटर शोपीस बने हुए हैं। दूसरी ओर शिक्षा विभाग के अनुसार प्रज्ञान योजना के तहत कुछ शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया था, जिनसे काम चलाया जा रहा है।

जिले के दस हजार बालक हो रहे थे लाभान्वित

जिले के सरकारी आईसीटी विद्यालयों में उत्कर्ष प्रोजेक्ट के तहत कंप्यूटर शिक्षा से लगभग दस हजार विद्यार्थी हर साल लाभान्वित हो रहे थे, लेकिन जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग के मोइनी फाउंडेशन के साथ हुए एमओयू करार के मुताबिक फंडिंग व्यवस्था नहीं होने से इस योजना को बंद कर दिया गया। एमओयू करार के मुताबिक जिला प्रशासन द्वारा भामाशाहों के माध्यम से इस योजना के लिए फंड की व्यवस्था की जानी थी, लेकिन पंद्रह लाख में से मात्र ढाई लाख रुपए ही दिए गए।...

फोटो - http://v.duta.us/W9Og2QAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/qd7XlgAA

📲 Get Sawai Madhopur News on Whatsapp 💬