खतरे के निशान से नीचे चंबल-पार्वती, इधर जिले में बारिश का 70 फीसदी कोटा पूरा, खतरा बरकरार

  |   Gwaliornews

श्योपुर. मालवा और हाड़ौती क्षेत्र की बारिश से बीते रोज अपने रौद्र रूप में चंबल और पार्वती नदियां शनिवार की सुबह खतरे के निशान से नीचे आ गई, लेकिन अभी खतरा बरकरार है। क्योंकि जिस तेजी से नदियों का जलस्तर बढ़ा, उससे कई गुना धीमी गति से जलस्तर कम हो रहा है। यही वजह है कि शनिवार को दिन भर में चंबल में 7 फीट तो पार्वती में 4 फीट ही पानी कम हुआ है। हालांकि श्योपुर से राजस्थान जाने वाले दो रास्ते खुल गए, लेकिन खातौली पुल पर 9 फीट पानी होने के कारण श्योपुर-कोटा मार्ग लगातार तीसरे दिन (15 अगस्त से ही बंद) भी बंद रहा।...

फोटो - http://v.duta.us/UQCK6wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/THEE2AAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬