चबल में उफान, तटवर्ती इलाकों में बाढ़ के हालात

  |   Bhindnews

कदोरा/अटेर. 16 अगस्त को कोटा बैराज से पानी छोड़े जाने के बाद चंबल में लगातार पानी बढ़ रहा है। शनिवार दोपहर 3 बजे तक खतरे के निशान से जलस्तर चार मीटर ऊपर पहुंच गया है। ऐसे में प्रशासन ने एहतियात के तौर पर चंबल नदी किनारे बसे गांवों में अलर्ट घोषित कर उन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने की कवायद शुरू कर दी है।

चंबल नदी के उदी घाट पर 119.80 मीटर का निशान खतरे का है। शनिवार सुबह ७ बजे तक पानी खतरे के निशान को पार करते हुए 120.90 मीटर पर पहुंच गया था। जबकि लगातार पानी के बढऩे की स्थिति के चलते दोपहर 3 बजे तक 122.62 मीटर तक पहुंच गया है। लिहाजा चंबल के तटवर्ती गांवों में अलर्ट घोषित किए जाने के अलवा प्रशासन ने ग्रामीणों की सुरक्षित बसाहट के लिए जगह चिह्नित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। शनिवार सुबह कलेक्टर छोटे सिंह, एएसपी संजीव कंचन, अटेर एसडीएम अभिषेक चौरसिया, लोक निर्माण विभाग अधिकारी केके शर्मा, अटेर एसडीओपी आरपी मिश्रा सहित एक दर्जन सदस्यीय प्रशासनिक अमला अटेर पहुंचा। जहां चंबल के तटवर्ती गांवों का जायजा लेने के उपरांत प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के इंतजामात किए जाने के निर्देश दिए।...

फोटो - http://v.duta.us/YddJ7QAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/yHlOdAAA

📲 Get Bhind News on Whatsapp 💬