जम्मू संभाग में बाढ़ प्रभावित इलाकों में अलर्ट, वाटर वार्न बीमारियों को लेकर बढ़ाई गई सतर्कता

  |   Jammunews

जम्मू संभाग में मानसून के सक्रिय होने के साथ वाटर वार्न बीमारियों को लेकर सतर्कता बढ़ाई गई है। इसके लिए बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों को अलर्ट किया गया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जलभराव स्थलों सहित अन्य स्थानों को ड्राई करने की हिदायतें दी गई हैं। मलेरिया, डेंगू जैसे संदिग्ध मामलों की संबंधित चिकित्सा केंद्रों में रिपोर्ट करने को कहा गया है। इस समय दूषित पानी से डायरिया, उल्टी, दस्त और बुखार की शिकायत बढ़ी है। अस्पतालों में ऐसे मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

बरसात में खासतौर पर प्राकृतिक जलस्रोतों पर निर्भर रहने वाले दूषित पानी से डायरिया, उल्टी, दस्त और बुखार से पीड़ित हो रहे हैं। बारिश के साथ शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में दूषित पानी घरों तक पहुंच रहा है। यह समस्या उन क्षेत्रों में ज्यादा है, जहां पानी के पाइप टूटे हैं। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में प्राकृतिक जलस्रोतों में बरसात से पानी दूषित हो रहा है। जागरूकता के अभाव में ग्रामीण इसी पानी का पीने के लिए उपयोग कर रहे हैं। बरसात में दूषित पानी से बच्चों में सामान्य तौर पर रोटा वायरस की शिकायत अधिक हुई है। इसमें बच्चे को ठीक होने पर हफ्ते से अधिक समय लग सकता है।...

फोटो - http://v.duta.us/NEAapAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/w5BzKgAA

📲 Get Jammu News on Whatsapp 💬