तीन आरोपियों से चार लाख बीस हजार की चरस बरामद

  |   Lakhimpur-Kherinews

निघासन। नेपाल से मुंबई चरस लेकर आ रहे तीन तस्करों को पुलिस ने गश्त के दौरान पकड़ लिया। इनसे पौने तीन किलो चरस बरामद हुई है। पुलिस ने तस्करों से दो तमंचा, तीन कारतूस भी बरामद किए हैं।

प्रभारी निरीक्षक दीपक शुक्ला ने बताया कि पढुआ चौकी इंचार्ज हनुमंत तिवारी पुलिस फोर्स के साथ शुक्रवार रात करीब ढाई बजे सिंगाही रोड पर गश्त कर रहे थे। मोटेबाबा मंदिर के पास पैदल तीन व्यक्ति आते दिखाई पड़े। पुलिस ने इनको पकड़ लिया। पूछताछ में इन्होंने अपना नाम आमीर सउद निवासी टीवी दवाखाना किदवई रोड थाना मालेगांव नासिक महाराष्ट्र, इमामुद्दीन और मनोज सिंगाही के रहने वाले हैं। तलाशी के दौरान आमीर के पास थैले के अंदर झिल्ली में चरस थी। पुलिस ने इमामुद्दीन और मनोज के पास बार बोर के दो तमंचा और तीन कारतूस भी बरामद किए। प्रभारी निरीक्षक के अनुसार इमामुद्दीन और मनोज लंबे समय से नेपाल के भजनी, टीकापुर आदि स्थानों से चरस खरीदकर भारत के विभिन्न शहरों में उसकी बिक्री करते थे। तस्कर नेपाल से चरस खरीदकर मोहना नदी पर बनें गुलरिहा घाट से लेकर सिंगाही आए थे। कोई वाहन आदि ना मिलने के कारण पैदल ही निघासन की ओर आ रहे थे। यह प्राइवेट या रोडवेज बस से मुंबई जाने की तैयारी में थे। पुलिस जीप को देखकर वह बंगलहा गांव की ओर भागे। इंडो नेपाल बॉर्डर पर तस्करी रोकने के लिए एसएसबी के जवान और तिकुनियां पुलिस तैनात हैं। इसके बावजूद पुलिस तस्करी रोकने में नाकाम हा रही है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/mMzrfQAA

📲 Get Lakhimpur Kheri News on Whatsapp 💬