दहेज हत्या के आरोपी पति, सास-ससुर को 10-10 साल की कैद

  |   Tehrinews

दहेज के लिए विवाहिता की हत्या के मामले में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश शेष चंद्र की अदालत ने मृतका के पति, ससुर और सास को दस-दस वर्ष के कठोर कारावास और पांच-पांच हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है। जुर्माना जमा नहीं करने पर सभी अभियुक्तों को एक-एक माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी।

नई टिहरी थाना पुलिस को चार जनवरी 2017 को दी गई तहरीर में मृतका के पिता लाल सिंह निवासी आफिसर्स कालोनी रेसकोर्स देहरादून ने बताया था कि उनकी पुत्री कविता का विवाह एक मई 2014 को अलेर सिंह पुत्र गबर सिंह उर्फ चैत सिंह निवासी ग्राम सगवांण गांव पट्टी सारज्यूला के साथ हुआ था। विवाह के दो-तीन महीने बाद ही कविता के पति, सास और ससुर उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। पति विदेश में रहकर फोन से दहेज के लिए परेशान करता था। तहरीर में कहा गया कि तीन जनवरी 2017 को मृतका के ससुर ने फोन पर सूचना दी कि कविता ने आत्महत्या कर ली है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ अभियोग पंजीकृत कर जांच शुरू कर आरोप पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया। मामले में सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता वेणी माधव शाह ने कई कागजी दस्तावेज और गवाह पेश किए। शनिवार को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी पति अलेर सिंह, ससुर गबर सिंह और सास मुन्नी देवी को 10-10 साल कठोर कारावास की सजा सुनाई है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/zd0vfAAA

📲 Get Tehri News on Whatsapp 💬