बदहाल मिला स्टेडियम, दो कोच, प्रभारी पर कार्रवाई

  |   Kannaujnews

कन्नौज/सौरिख। क्षेत्र के ग्राम हरिभानपुर में 10 करोड़ की लागत से 15 हजार क्षमता के स्टेडियम की हालत देखकर डीएम दंग रह गए। हर तरफ बड़ी-बड़ी घास खड़ी थी। पवेलियन की बालकनी की टूटी छत देख तैनात अफसरों को बुलाया। पता चला कि वह गैरहाजिर हैं। प्रभारी क्रीड़ा अधिकारी से लेकर दोनों कोच और तीन कर्मचारी नहीं थे। क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि यह लोग कभी कभार ही आते हैं। इस पर डीएम ने सभी का वेतन रोकने और स्पष्टीकरण मांगने के निर्देश दिए। विभागीय कार्रवाई के लिए निदेशक खेल विभाग को पत्र लिखने के लिए कहा।

निरीक्षण के दौरान डीएम रवींद्र कुमार की नजर स्टेडियम में लगे हैंडपंप पर गई तो बताया गया कि इसे आर्थिक विकास त्वरित योजना के तहत जल निगम ने वर्ष 2018-19 में लगवाया था। इस पर डीएम ने सवाल किया कि क्रीड़ा अधिकारी रमेश पाल ने हैंडपंप लगवाने के लिए उनसे भी कहा था। हैंडपंप के लिए बजट भी जारी किया गया था। पैसा निकाल भी लिया गया। जब यह हैंडपंप जल निगम ने लगवाया था तो उनके द्वारा भेजा गया हैंडपंप का पैसा कहां गया। डीएम ने क्रीड़ा अधिकारी को फोन मिलाकर बात की। क्रीड़ा अधिकारी संतोषजनक जवाब नहीं दे सके तो उनका पारा चढ़ गया। उन्होंने पैसा वापस न करने पर एफआईआर दर्ज कराने की चेतावनी दी। स्टेडियम में डेली बेस पर काम कर रहे सोनू पुत्र कल्लू से डीएम ने जानकारी मांगी तो उसने बताया कि क्रीड़ा अधिकारी रमेश पाल, क्रिकेट कोच अमित यादव, हाकी कोच संजीव सप्ताह में दो या तीन बार ही आते हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/-pFEpQEA

📲 Get Kannauj News on Whatsapp 💬