बाल विवाह के मामले गंभीरता से नहीं ले रही पुलिस

  |   Pilibhitnews

बाल विवाह के मामले गंभीरता से नहीं ले रही पुलिस

चार दिन बाद भी नहीं हो पाई आरोपियों की गिरफ्तारी

बीसलपुर। कोतवाली पुलिस बाल विवाह के मामले को हल्के में ले रही है। यही वजह है कि पुलिस चार दिन बाद भी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

नगर के एक व्यक्ति ने छह जुलाई को अपनी नाबालिग पुत्री का विवाह नगर के ही एक युवक से कर दिया था। विवाह नगर के एक मंदिर में हुआ था। जिस दिन विवाह हुआ था उस दिन किशोरी की मां और भाई घर पर नहीं थे। अगले दिन जब किशोरी की मां और भाई लौटे तो उन्हें मामले की जानकारी हुई। तब उन्होंने किशोरी को उसकी ससुराल से लाने का प्रयास किया, लेकिन ससुराल वालों ने उसे घर से नहीं निकलने दिया। इसके बाद 14 अगस्त को किसी तरह वह किशोरी को उसकी ससुराल से निकालने में कामयाब हुए। इसके बाद उन्होंने कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मामले की जांच करने की बात कह रही है, लेकिन पुलिस की ढिलाई देखकर लग रहा है कि वह इस मामले को गंभीरता से नहीं ले रही है। पुलिस अब तक आरोपियों को भी गिरफ्तार नहीं कर पाई है। इस बाबत इंस्पेक्टर हरीशंकर वर्मा ने बताया कि कस्बा इंचार्ज मोहित कुमार मामले की विवेचना कर रहे हैं। विवेचना पूरी होते ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tLzCmAAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬