लोगों को डराने लगा मानसून: 1982 में 3 नदियों में उफान से हुई थी भारी तबाही

  |   Sawai-Madhopurnews

सवाईमाधोपुर। जिले के बीच से बहने वाली प्रमुख तीन नदियों चंबल, बनास और मोरेल पर बने बांध अब पूरी तरह भर चुके हैं। अगर तीनों नदियों के बाधों के दरवाजे खोल कर पानी निकाला गया तो जिले के लिए संकट का कारण बन सकता है।

एक तरफ दौसा जिले का मोरेल बांध पर चादर चलना शुरू हो गई है। वहीं टोंक जिले का बीसलपुर बांध जल्द लबालब होने वाला है। पूरा भरने के बाद इसके गेट खोले जाएंगे। इसी प्रकार कई दिन से चंबल नदी खतरे के निशान पर बह रही है। इन सभी नदियों का पानी खंडार इलाके के त्रिवेणी संगम पर मिला है, जहां पर एमपी से आने वाली नदी सीप भी अपना पानी उगल कर त्रिवेणी संगम बनाती है।...

फोटो - http://v.duta.us/QR_5hgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/9XynTAAA

📲 Get Sawai Madhopur News on Whatsapp 💬