सीतापुर जेल में सीबीआई ने चिह्नित किए कई संदिग्ध

  |   Unnaonews

उन्नाव। जेल में विधायक कुलदीप सेंगर की मदद करने वाले सीबीआई के निशाने पर हैं। सीबीआई अब यह पता लगा रही है कि सीतापुर जेल में बंद विधायक कुलदीप सेंगर और लखनऊ जेल में बंद उनके भाई अतुल सेंगर से कौन-कौन लोग कितनी बार मिलने गया। इन मुलाकातों को कराने में कौन-कौन से जेल कर्मियों ने मदद की। जेल में मोबाइल व अन्य सुविधाएं मुहैया कराने में पूर्व में उन्नाव जेल में तैनात रहे एक बंदीरक्षक की भी अहम भूमिका रही है।

दुष्कर्म पीड़िता के रायबरेली जिले में हुए हादसे की कड़ियों को जोड़ने में जुटी सीबीआई अब यह पता लगा रही है कि सीतापुर जेल में बंद विधायक कुलदीप सेंगर और लखनऊ जेल में बंद उनके भाई अतुल सेंगर से कौन-कौन लोग कितनी बार मिले। जेल में रहने के दौरान विधायक को मोबाइल फोन उपलब्ध कराने वालों में कुछ संदिग्धों को चिह्नित किया है। 14 अगस्त को सीबीआई ने सीतापुर जेल में कुछ कर्मचारियों से पूछताछ की थी। इनमें एक बंदीरक्षक भी शामिल है। मालूम हो कि विधायक कुलदीप सेंगर पर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज होने के बाद उन्हें व मुकदमे में सह आरोपी शशि सिंह को उन्नाव जेल में रखा गया था। पीड़िता के चाचा ने विधायक को जेल में घर जैसी सुविधाएं मुहैया कराने का आरोप लगाया था।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/kSiO-QAA

📲 Get Unnao News on Whatsapp 💬