६ महीने पहले विज्ञापन किए जारी, लेकिन अब तक नहीं सिलेक्ट कर पाए फिजियोथैरेपिस्ट

  |   Sagarnews

सागर. बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में मरीजों को रिकवर होने के लिए फिजियोथैरेपी यूनिट की सुविधा नहीं है। मेडिकल कॉलेज को शुरू हुए एक दशक बीत चुका है, लेकिन इस यूनिट को अभी तक प्रबंधन स्थापित नहीं कर पाया है। फिजियोथैरपी की आवश्यकता खासतौर पर उन मरीजों के लिए होती है, जिनकी सर्जरी हुई हो। या फिर हड्डी से जुड़े मरीज, जिनकी मासपेसियां कमजोर हो गई है।

वहीं, लकवाग्रस्त मरीजों के लिए यह यूनिट होना बहुत जरूरी है। इस यूनिट के न होने से मरीजों को निजी फिजियोथैरपी सेंटर पर जाना पड़ रहा है, जहां उन्हें मंहगी फीस देनी पड़ रही है। यहां बता दें कि दो साल पहले इसको शुरू करने की कवायद हुई थी। छह महीने पहले प्रबंधन ने फिजियोथैरपिस्ट की नियुक्ति के लिए विज्ञापन भी जारी किए थे। लेकिन अभी तक फिजियोथैरेपिस्ट का चयन नहीं हुआ है।...

फोटो - http://v.duta.us/GkV4wQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4e6uhQAA

📲 Get Sagar News on Whatsapp 💬