Medical University: सौ करोड़ के प्राजेक्ट अटके, पूरा होने के लिए मिल रही है 'तारीख पर तारीख'

  |   Jabalpurnews

जबलपुर। नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज में नए इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में पीडब्ल्यूडी के प्रोजेक्ट इम्प्लीमेंटशन यूनिट (पीआइयू) की ढिलाई से छात्र-छात्राओं और मरीजों को कई नई सुविधाएं नहीं मिल पा रही हैं। नए भवनों के निर्माण से एमबीबीएस की सौ सीटें बढऩे के साथ ही मरीजों के वार्ड और बिस्तर बढ़ेंगे। उपचार की नई सुविधा भी शुरू करने का प्रस्ताव है। लेकिन, पीआइयू की निगरानी में चल रहे तकरीबन सभी निर्माण कार्य डेडलाइन से बेहद पीछे चल रहे है। भवनों को ड्रॉइंग, डिजाइन से लेकर निगरानी के लिए पीआइयू छह प्रतिशत की दर से कंसल्टेंसी शुल्क वसूल रही है। लाखों रुपए की रकम जमा कराने के बाद भी सौ करोड़ रुपए से अधिक लागत वाले प्रोजेक्ट का एक भाग भी समय पर तैयार नहीं हुआ है। मंत्रियों से लेकर अधिकारियों की फटकार के बाद भी प्रोजेक्ट अटके हैं। इनकी डेड लाइन छह महीने पहले समाप्त हो चुकी है।...

फोटो - http://v.duta.us/rmQesgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/-XAjvgAA

📲 Get Jabalpur News on Whatsapp 💬