जानिए जम्मू-कश्मीर कब बना था भारत का हिस्सा, सेना ने पाकिस्तान को चटाई थी धूल

  |   Jammu-And-Kashmirnews

मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर में सोमवार को नेहरू के समय से चली आ रही आर्टिकल 370 और 35-ए को हटा दिया जिसके बाद से देशभर में खुशी का माहौल है। वहीं आपको बताते हैं कि जम्मू-कश्मीर का विलय भारत

नेशनल डेस्कः मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर में सोमवार को नेहरू के समय से चली आ रही आर्टिकल 370 और 35-ए को हटा दिया जिसके बाद से देशभर में खुशी का माहौल है। वहीं आपको बताते हैं कि जम्मू-कश्मीर का विलय भारत में कब और कैसे हुआ। 26 अक्तूबर, 1947 वह दिन है जब जम्मू-कश्मीर भारतीय संघ का हिस्सा बना था। इसके पीछे पाकिस्तान भी सबसे बड़ा कारण रहा है। आजादी के फौरन बाद पाकिस्तान की हरकतों ने राज्य को भारत का हिस्सा बनाने में अहम भूमिका निभाई। 16 मार्च, 1846 को ब्रिटिश के कब्जे में आने के बाद कश्मीर एक देशी रियासत बन गया। इसे जम्मू-कश्मीर के महाराजा गुलाब सिंह ने अंग्रेजों से खरीदा था। हांलाकि, इस बात का अंग्रेजों को बाद में बहुत पछतावा रहा। जम्मू-कश्मीर अकेली ऐसी रियासत रही, जहां पर अंग्रेजों का राज नहीं चल सका। महाराजा गुलाब सिंह एक कुशल योद्धा और मंजे हुए राजनीतिज्ञ थे। महाराजा हरि सिंह उन्हीं के वंशज थे।...

फोटो - http://v.duta.us/VjkzogAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_RgynAAA

📲 Get Jammu and Kashmir News on Whatsapp 💬