जिला अस्पताल में डीजल व पेट्रोल खर्च के बिलों का होना सत्यापन

  |   Farrukhabadnews

कलक्ट्रेट सभागार में सोमवार को जिलाधिकारी मोनिका रानी की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक हुई। इसमें जिलाधिकारी ने पौधे नहीं उठाने पर बीएसए व डीआईओएस की फटकार लगाई। कहा कि शिक्षा विभाग तो सोता ही रहता है। अन्य विभाग काम कर लेते हैं। मंगलवार तक पौधों का उठान न होने पर बीएसए व डीआईओएस का वेतन रोक दिया जाएगा। साथ ही लापरवाही बरतने पर बीएसए व दो कार्यदायी संस्थाओं के विरुद्ध शासन को पत्र लिखने के निर्देश दिए।

बैठक में जिलाधिकारी ने सीएमओ से कहा कि जिला अस्पताल की ओपीडी में भगदड़ की शिकायतें आ रही है। वहां बच्चों, महिलाओं एवं बुजुर्ग नागरिकों के लिए अलग कतार लगाएं। उन्होंने डीएसओ एवं सीएमओ को जिला अस्पताल में छह माह में डीजल और पेट्रोल के लगाए गए बिल अभिलेखों के सापेक्ष संबंधित पेट्रोल पंप से वास्तविक सत्यापन कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। सीएमएओ ने लगभग 30 निजी अस्पतालों में प्रसव होने व रिपोर्टिंग अधूरी रहने की जानकारी दी। डीएम ने कार्रवाई के निर्देश दिए।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/fhm4nAAA

📲 Get Farrukhabad News on Whatsapp 💬