नाग पंचमी विशेष: 50 साल से अधिक चली आ रही विराट दंगल की परंपरा, नेपाल के टाका शाका और देश के दारा सिंह पहलवान खेले विराट दंगल में

  |   Shahdolnews

शहडोल। विराट नगरी शहडोल का दंगल 1662 से अपनी परंपरा को लगातार आगे बढ़ा रहा है। नाग पंचमी के दिन आयोजित होने वाले इस एतिहासिक दंगल में नेपाल देश के जाने माने पहलवान टाका शाका और देश के हरियाणा के जाने माने प्रसिद्ध फिल्मी पर्दे पर अपनी छाप छोडऩे वाले और जाने माने पहलवान दारा सिंह विराट दंगल में पहलवानी का दांव पेंच आजमा चुके है। इतना ही नहीं दारा सिंह के छोटे भाई रनधावा पहलवान भी दारा सिंह के साथ वर्ष 1684 में विराट नगरी में आयोजित दंगल में अपनी पहलवानी का जौहर दिखा चुके हैं। नागपंचमी के दिन स्थानीय पहलवानों के अलावा देश के कोने कोने से पहलवान आकर पहलवानी का दांव आजमा चुके हैं। इसलिए विराट दंगल अपनी एतिहासिक पहचान अभी भी बनाए हुए है। विराट नगरी में उत्तरप्रदेश के गाजीपुर के जाने माने पहलवान मेहरदीन, उत्तरप्रदेश के मथुरा के जाने माने ख्याति प्राप्त पहलवान मोहन चौबे के अलावा मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर के जाने माने हन्नू पहलवान, सिहोरा के राहणी, के अलावा देश के अन्य जाने माने पहलवानों के अलावा विराट नगरी के पहलवान अताउल्ला, रहीम उस्ताद, खेलावन, रघुनाथ, रज्जू यादव, राजाराम सोनी, नीलेश पाण्डेय, गंगाराम विद्यार्थी, खलीफा जैसे धुरंधर पहलवानों ने इस विधा में अपना जौहर दिखाते जिले और विराट दंगल को अपनी पहचान दिलाई।...

फोटो - http://v.duta.us/wAIbIQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/NyKQfwAA

📲 Get Shahdol News on Whatsapp 💬