मंदिरों में गूंजा हर-हर महादेव

  |   Chhatarpurnews

छतरपुर। सोमवार को नागपंचमी पर संजीवनी महायोग के साथ ही सावन के तीसरे सोमवार पर शिव मंदिरों में आस्था का सैलाब उमड़ा। 20 साल बाद बने योग में सावन सोमवार और नागपंचमी की पूजा हुी। नागदेव शिव के आभूषण हैं। सोमवार शिव का प्रिय दिन है। इस साल के बाद 21 अगस्त 2023 को ऐसा संयोग नागपंचमी पर आएगा। पंडित सतानंद पांडेय के अनुसार सावन सोमवार और नागपंचमी पर संजीवनी महायोग बना, जो 20 साल बाद बना, इससे पहले 16 अगस्त 1993 को यह योग बना था। अगला योग 21 अगस्त 2023 को आएगा। सावन शुक्ल पक्ष की पंचमी को नागदेव का पूजन करने की परंपरा है। जिले के सभी नगरों, कस्बों और गांवों में भी शिव मंदिरों में जलाभिषेक, दुग्धाभिषेक का सिलसिला चला। इसके साथ ही नागदेवता की पूजा और दंगल का आयोजन किया गया।...

फोटो - http://v.duta.us/0SL7YAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/1Cc0iQAA

📲 Get Chhatarpur News on Whatsapp 💬