जम्‍मू कश्‍मीर में👉 इंटरनेट और मोबाइल बैन📵 पर विदेश मंत्री का बड़ा🗣️ बयान

  |   Hindielections / समाचार

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्‍मू कश्‍मीर में इंटरनेट और टेलीफोन पर लगाए गए प्रतिबंधों का बचाव किया है। जयशंकर ने ब्रसेल्‍स के अखबार पोलिटिको को दिए एक इंटरव्‍यू में कहा है कि ये कदम जरूरी थे क्‍योंकि ऐसा करके ही आतंकियों और उनके आकाओं के बीच कम्‍यूनिकेशन को रोका जा सकता है।

जयशंकर ने इंटरव्‍यू में कहा है, 'आतंकियों के बीच जो भी बातचीत होती है उसे रोकना तभी संभव था जब पूरे कश्‍मीर पर इसका प्रभाव हो। सरकार के लिए एक तरफ आतंकियों और उनके आकाओं के बीच हो रहे संपर्क को रोकना और दूसरी तरफ लोगों के लिए इंटरनेट को खुला रखना बिल्‍कुल ही असंभव था। अगर ऐसा हो सकता है तो फिर मैं जानकर काफी खुश होऊंगा।'

जयशंकर के मुताबिक आर्टिकल 370 हटने के बाद कानून व्यवस्था और सुरक्षा सरकार की प्राथमिकता है। आतंकियों और उनके आकाओं से संपर्क को रोकने के लिए इंटरनेट और मोबाइल कनेक्टिविटी पर बैन लगाना जरूरी था। रूस, पोलैंड और हंगरी की यात्रा के बाद ब्रुसेल्स पहुंचे विदेश मंत्री जयशंकर ने वहां के अखबार को दिए गए इंटरव्यू में कश्मीर मसले पर राय रखी। उन्होंने ये भी कहा कि जब तक पाकिस्तान अपनी जमीन पर आतंकी गतिविधियों को नहीं रोकता, तब तक भारत उसके साथ कोई बात नहीं करेगा।

यहां पढ़ें पूरी खबर- http://v.duta.us/U9LqfQAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬