अन्ना गोवंश से फसल बचाने को किसान लगा रहे जान की बाजी

  |   Farrukhabadnews

प्रदेश सरकार भले ही गोवंश के संरक्षण व अन्नदाताओं की समस्या पर गंभीर है, लेकिन स्थानीय स्तर पर ध्यान नहीं दिया जा रहा। इससे गोवंश के झुंड किसानों की मेहनत को पल भर में चट कर जाते हैं। इसके चलते अन्नदाता अपनी फसलें बचाने को जान की बाजी लगाकर रात खेतों में ही गुजार रहे हैं।

अन्ना गोवंश की धरपकड़ को शहर में नगरपालिका, जबकि ग्रामीण क्षेत्र में जिला पंचायत की ओर से ठेका उठाया गया है। शहर में एक गोवंश पकड़ने पर 350 रुपये व ग्रामीण क्षेत्र में 490 रुपये निर्धारित है। जनपद में 22 स्थायी गोसदन, एक वृहद गोसंरक्षण केंद्र सहित करीब 40 गोशाला संचालित हैं। इनमें छह हजार गोवंश रखने की क्षमता है।...

फोटो - http://v.duta.us/zZ9t3gAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/w8AvfAAA

📲 Get Farrukhabad News on Whatsapp 💬