आरक्षक ने दिखाई जांबाजी, गीला कम्बल डालकर जलते सिलेंडर की बुलाई आग

  |   Anuppurnews

अनूपपुर। बहादुरी का प्रतीत पुलिस और सेना के जवान हमेशा ही अपनी जांबाजी के लिए जाने जाते रहे हैं। २१ सितम्बर रात को भालूमाड़ा थाना क्षेत्र में निर्माणाधीन स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सीय आवास कक्ष में खाना पकाने के दौरन सिलेंडर में भभक आग को आरक्षक करमजीत ईश्वरचंद्र ने गीला कम्बल डालकर उसे बुझाने में सफलता पाई। हालांकि आधा घंटा से भभक रही आग से सिलेंडर में विस्फोट की आशंका बनी थी। लेकिन आसपास मौजूद लोगों को देखते हुए आरक्षक ने खुद पहल कर उसपर काबू पाया। नगरवासियों ने इसकी सराहना की है। बताया जाता है कि नगर में निर्माणाधीन स्वास्थ्य केंद्र में साइड इंचार्ज भैया लाल तिवारी निर्माण कार्य समाप्त होने के बाद रात लगभग 8 बजे स्वास्थ्य केंद्र के ही रूम में गैस चूल्हा पर खाना बना रहे थे। तभी गैस व पाइप में आग पकड़ ली। देखते ही देखते सिलेंडर में लगे रेगुलेटर भी जलने लगा। भैया लाल तिवारी कुछ समझ पाते आग फैलने लगी। उन्होंने हिम्मत करके चूल्हे की पाइप को बाहर कर दिया और सिलेंडर को रूम से बाहर करने का प्रयास किया। लेकिन फर्श में टाइल्स होने की वजह से सिलेंडर बाहर नहीं आ सका। भालूमाड़ा थाना सहित १०० डायल वाहन को सूचना दी। साथ ही एक व्यक्ति को नगरपालिका भेज दमकल वाहन भेजने की अपील। नगरपालिका में ड्राइवर नहीं होने के कारण फायरब्रिगेड वाहन नहीं आ सकी। आग की सूचना पर एएसआई मिश्रा और आरक्षक करमजीत ईश्वरचंद्र तत्काल स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। स्थानीय लोगों द्वारा आग बुझाने के प्रयास के बाद भी नहीं बूझने पर आरक्षक करमजीत ने एक कंबल मंगाकर उसे गीला किया और हिम्मत करके सिलेंडर के ऊपर रख चारो दिशाओं से दबा दिया। चंद समय के बाद सिलेंडर की आग बूझ गई। आग बुझने पर लोगों ने राहत पाया। लोगों का कहना था यदि सिलेंडर फट जाती तो निर्माण से पूर्व ही डॉक्टरों के लिए बनाया आवास खंडहर में तब्दील हो जाता।

फोटो - http://v.duta.us/Pv304gAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/MYV4UAAA

📲 Get Anuppur News on Whatsapp 💬