आसाराम को लगा कोर्ट से एक और झटका

  |   Jodhpurnews

जोधपुर.

नाबालिग छात्रा के यौन उत्पीड़न मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे आसाराम (asaram) को एक बार फिर राजस्थान हाईकोर्ट (rajasthan high court) से झटका लगा। कोर्ट ने सोमवार को दूसरी बार सजा स्थगित करने का आसाराम का प्रार्थनापत्र खारिज कर दिया।

न्यायाधीश संदीप मेहता और न्यायाधीश विनीतकुमार माथुर की खंडपीठ में सजा स्थगन प्रार्थना पत्र पर सुनवाई के दौरान आसाराम के अधिवक्ता शिरीष गुप्ते ने कहा कि जिस समय यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज करवाया गया था, उस वक्त पीडि़ता बालिग थी।

इसका प्रतिवाद करते हुए पीडि़ता के अधिवक्ता पीसी सोलंकी ने कहा कि ट्रायल के दौरान भी आरोपी की ओर से इस संबंध में जांच का आग्रह किया गया था, जिसमें यह सामने आया था कि पीडि़ता नाबालिग है।...

फोटो - http://v.duta.us/qaUspAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/sxLOGQAA

📲 Get Jodhpur News on Whatsapp 💬