इन शिक्षकों ने सरकार पर लगाया आरोप, कहा- हमें गन्ने की तरह चूस कर फेंक दिया गया

  |   Kondagaonnews

कोण्डागांव. जिले में लगातार तीन वर्षों तक विद्यामितान के रूप में अपनी सेवाएं देने वाले युवाओं ने जिले में अतिथि शिक्षकों की नियम विरूद्ध भर्ती किए जाने का मामला उठाया हैं। रविवार की सुबह छत्तीसगढ़ विद्यामितान कल्याण संघ के प्रदेशाध्यक्ष धर्मेद्र दास वैष्णव ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि, बस्तर व सरगुजा में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए योग्य व प्रशिक्षित शिक्षकों की नियुक्ति भाजपा शासनकाल में विद्यामितान के रूप में की गई थी।

इसके बाद से यह प्रक्रिया लगातार चली आ रही है, लेकिन इस शिक्षण सत्र में पदनाम में परिवर्तन करते हुए इसे अतिथि शिक्षक की नियुक्ति के संबंध में विज्ञापन जारी किया गया था। लेकिन कोण्डागांव जिले में राज्य शासन से जारी नियम व आदेशों की अवहेलना करते हुए यहां शिक्षकों की नियुक्ति आदेश जारी किया है।...

फोटो - http://v.duta.us/A1bN5gAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Ny7cIQAA

📲 Get Kondagaonnews on Whatsapp 💬