करंट से बालक की मौत, शव सड़क पर रख कर लगाया जाम, नारेबाजी

  |   Pilibhitnews

बिलसंडा (पीलीभीत)। कूड़ा बीनते वक्त टूटे पड़े बिजली के तार की चपेट में आकर दस वर्ष के बालक की जान चली गई। खबर मिलने पर जमा हुए परिजन और कई संगठनों से जुड़े लोगों ने पावर कॉरपोरेशन की लापरवाही बच्चे की मौत होने की बात कहकर जाम लगा दिया। पावर कॉरपोरेशन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मृतक के परिजन को दस लाख मुआवजे की मांग की गई। एसडीएम ने हरसंभव मदद का भरोसा दिलाकर मामला शांत कराया। इसके बाद पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है।

कस्बा बिलसंडा के मोहल्ला ईदगाह निवासी मुंशीलाल मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करते हैं। उनका दस वर्षीय पुत्र राजीव रविवार सुबह करीब साढ़े छह बजे घर से निकल गया। मकान से करीब तीन सौ मीटर की दूरी पर एक बंद बैटरी की दुकान के बाहर कूड़ा बीन रहा था। वहीं पर पहले से टूटकर गिरे बिजली के तार से निकल रहे करंट की चपेट में आकर राजीव की मौके पर ही मौत हो गई। नगर पंचायत के सफाई कर्मचारियों ने शव पड़ा देखा तो शोर मच गया। परिजन मौके पर पहुंच गए। कुछ ही देर में बजरंग दल, सभासद संघ, युवा आजाद संगठन, युवा विकास संगठन से जुड़े तमाम लोग और ग्रामीण जमा हो गए। हादसे के पीछे पावर कॉरपोरेशन के अधिकारियों की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराया। शव रखकर उन्होंने गोला रोड पर जाम लगाकर पावर कॉरपोरेशन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इंस्पेक्टर बिलसंडा सुरेश कुमार सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शांत कराने का प्रयास किया, लेकिन असफल रहे। सूचना अधिकारियों को दी गई। जिसके बाद एसडीएम बीसलपुर सौरभ दुबे, सीओ प्रवीण मलिक भी पहुंच गए। उन्होंने हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए परिजन को ढांढस बंधाया। दस लाख मुआवजे की मांग पर उन्होंने हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया, जिसके बाद लोग मान गए और जाम खोल दिया। इंस्पेक्टर बिलसंडा ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कानूनी कार्रवाई के लिए कोई तहरीर नहीं दी गई है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ZTtoSAAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬