किशोर की हत्या में अभियुक्त को उम्रकैद

  |   Shahjahanpurnews

शाहजहांपुर। सप्तम अपर सत्र न्यायाधीश नरेंद्र कुमार ने हत्या के एक मुकदमे की सुनवाई करते हुए दोष सिद्ध होने पर आरोपी का उम्रकैद की सजा और 30 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है, इसके साथ ही जुर्माने की धनराशि में से आधी धनराशि प्रतिकर के रूप में मृतक के भाई फैजान को दिलाए जाने का आदेश दिया है।

तिलहर के मोहल्ला हिंदू पट्टी निवासी शाहिद का 12 वर्षीय पुत्र फरहान 30 अक्तूबर 2017 को घर से बाहर खेलने के लिए निकला था। देर तक वापस नहीं आने पर उसकी तलाश शुरू की गई लेकिन कामयाबी नहीं मिली। इस पर बड़े भाई फैजान ने उसी दिन अज्ञात में मामले की रिपोर्ट अपहरण में दर्ज कराई। उसने इसके बाद भी भाई फरहान को तलाश किया लेकिन वह नहीं मिल सका। तीन नवंबर 2017 को मोहल्ला दोदराजपुर में सुरेंद्र सिंह के गन्ने के खेत में फरहान का शव मिला। विवेचना के दौरान दोदराजपुर निवासी रिजवान का नाम प्रकाश में आने पर पुलिस ने उसे नौ फरवरी 2018 को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके खिलाफ अपहरण कर हत्या और साक्ष्य मिटाने के आरोप में आरोप पत्र कोर्ट में पेश किया। कोर्ट में मुकदमा चलने के दौरान गवाहों के बयान और सरकारी वकील विनोद कुमार शुक्ल के तर्कों को सुनने के बाद अपर सत्र न्यायाधीश ने शुक्रवार को अपना फैसला सुनाया, जिसमें आरोपी रिजवान को उम्रकैद की सजा और 30 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/GYKB_wAA

📲 Get Shahjahanpur News on Whatsapp 💬