खुद का वार्ड व नाम ढूंढने में आ रहा है पसीना

  |   Jalorenews

भीनमाल. नगरपालिका चुनाव के तहत वार्डों का आरक्षण होने के साथ ही चुनावी सरगर्मीयां भी बढ़ गर्ई है। पालिका में इस बार वार्ड 30 से बढ़कर 40 हो गए है। ऐेसे में कई वार्डों का स्वरूप भी बिगड़ गया है। लोगों को खुद का वार्ड व मतदाता सूची में नाम ढूंढने पसीना आ रहा है। हाल यह है कि कई वार्ड तो इतने बड़े हो गए है, तो कई वार्ड छोटे भी हो गए है। परिसीमन में शामिल मोहल्ले अन्यत्र वार्ड में चले जाने से समस्या और भी बढ़ गई है। लोगों का कहना है कि वार्ड बदल गया है, लेकिन जिस वार्ड में मोहल्ले को शामिल किया है, उसमें नाम नहीं है। एक ही परिवार के सदस्यों के नाम अलग-अलग वार्ड के मतदाता सूची में चले गए है। शहर क्षेत्र में करीब 7-8 फीसदी मतदाताओं के नाम उसके वार्ड में नहीं है। हालांकि मतदाता सूचियों में आपत्तियां का दौर सोमवार तक जारी रहेगा। पालिका क्षेत्र में इस बार 31 हजार से अधिक मतदाता है। पालिका प्रशासन का कहना है कि वार्ड आबादी के लिहाज से बने हुए है, छितराएं आबादी क्षेत्र का वार्ड बढ़ा है, घनी आबादी का वार्ड क्षेत्र छोटा है।...

फोटो - http://v.duta.us/lGbbKwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/zAEKJQAA

📲 Get Jalore News on Whatsapp 💬