गोशाला से निकले मवेशियों की यमुना नदी में डूबने से मौत!

  |   Chitrakootnews

मऊ। यमुना नदी में आयी बाढ़ के बाद मवई कला गांव में बनी गोशाला से छैतानी गांव में बनी गोशाला मेें 300 मवेशियों को ले जाया गया। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि यमुना नदी बढ़ी होने के बाद भी मवेशियों पानी से निकलने पर एक दर्जन से अधिक पशुओं की मौत हो गई है।

गौरतलब है कि यमुना नदी में बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित गांवों में मवईकला गांव है जहां पर बनी गोशाला में 300 मवेशियोें के डूबने का खतरा बन गया था। जिसको देखते हुए गांव के प्रधान रामनरेश निषाद ने एसडीएम को पत्र लिखकर मवेशी को दूसरे स्थान पर ले जाने के लिए अनुमति मांगी थी। लगातार मवेशी बाडे में पानी भरने से मवेसियों की सुरक्षा को देखते हुए गांव के प्रधान ने गोशाला से निकाल दिया। स्थानीय ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि जब चरवाहे मवेशियों को लिए जा रहे थे। बीच रास्ते मेें मवेशी भागने लगे जिससे आधा दर्जन से अधिक मवेशी डूब गए।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/1oD1hgAA

📲 Get Chitrakoot News on Whatsapp 💬