चिटफंड संचालक को पुलिस ने भेजा जेल

  |   Pratapgarhnews

चिटफंड संचालक को पुलिस ने भेजा जेल

नौ दिन बाद हिरासत में लिए गए मकान मालिक के बेटे को छोड़ा

पूछताछ में फिर संचालक ने बदला नाम, दूसरे जिले के 10 लोगों के नाम भी आए सामने

प्रतापगढ़। चिटफंड कंपनी संचालक को क्राइम ब्रांच ने नौ दिन तक छानबीन के बाद जेल भेज दिया। मकान मालिक के बेटे को पुलिस ने छोड़ दिया। पूछताछ के दौरान पकड़े गए संचालक ने फिर अपना नाम बदल दिया। उसने फ्राड गैंग के 10 सदस्यों के नाम पुलिस को बताए हैं। पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है।

नगर कोतवाली के करनपुर करमचंदा में सालिकराम जायसवाल के मकान में मनी स्पाट म्यूचुअल चिटफंड कंपनी ने 40 दिन के भीतर करीब 400 ग्राहक बनाए। लोगों के करीब 40 लाख से अधिक रुपये कंपनी में जमा कराए। किसी को कर्ज देने के लिए तो किसी की जमा धनराशि पांच साल में दोगुना करने का झांसा दिया था। कंपनी के लोगों ने कर्ज लेने वाले लोगों को प्रक्रिया पूरी करने पर 13 सितंबर के दिन रुपये खाते में भेजने का भरोसा दिलाया था। उसी रात कंपनी का सारा सामान समेटकर लोग भागने लगे। लोगों को भनक लग गई और कंपनी में रुपया जमा करने वालों ने रात में ही कंपनी के संचालक को बंधक बना लिया। दूसरे दिन पुलिस उसे व मकान मालिक आशीष जायसवाल को हिरासत में लेकर कोतवाली गई। 122 लोगों ने पुलिस को तहरीर दी। एसपी अभिषेक सिंह के निर्देश पर प्रकरण की विवेचना क्राइम ब्रांच निरीक्षक देवेंद्र ने शुरू कर दी। कंपनी का सामान कब्जे में लेने के बाद रविवार को उनकी पूछताछ पूरी हुई। कल तक पुलिस को अपना नाम विपिन सिंह निवासी हरदोई बताकर गुमराह करने वाला संचालक क्राइम ब्रांच की पूछताछ में टूट गया। उसने पुलिस को अपना नाम अजीत सिंह निवासी टीकर थाना अहिरौली जनपद कुशीनगर बताया। क्राइम ब्रांच निरीक्षक देवेंद्र सिंह ने बताया कि मकान मालिक सालिकराम के बेटे आशीष जायसवाल को इस शर्त पर छोड़ा गया है कि कंपनी में काम करने वाले लोगों की गिरफ्तारी में मदद करेगा। अजीत को जेल भेजा जा रहा है। अभी तक अलग-अलग जनपदों के दस लोगों का नाम प्रकाश में आया है। हालांकि केवल नाम व जिले का ही पता चल रहा है। पूछताछ में अजीत ने कंपनी के निदेशक बने राकेश शर्मा, संजय, अशोक , जीतेंद्र समेत अन्य का नाम सामने आया है। उनकी तलाश शुरू कर दी गई है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/x8ALQgAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬