छोटी सी उम्र में बेटियों ने पापा के दफ्तर पहुंचकर पाया बड़ा ज्ञान, खिले चेहरे

  |   Bundinews

बूूंदी. बेटियो΄ के लिए रविवार का दिन खास रहा। खास इसलिए की वह अपने पापा के साथ उनके कार्य स्थल पर गई। दिनभर साथ रही और उनके काम को जाना। उनकी सीट पर बैठी और अनुभवों को नजदीक से समझा। इस खास मौके पर पापा ने भी सारे अधिकार अपनी बेटी को दिए। यहां तक की ग्राहकों को सामान देने, खेतों में ट्रैक्टर चलाने और दफ्तर में फाइल को पढऩे का अवसर भी बेटियों को प्रदान किया। सभी के लिए यह अनुभव नया था, लेकिन इसने उन्हें खुशी प्रदान की। बेटियों के चेहरो΄ की चमक ने यह साफ कर दिया कि यह पल उनके लिए कितना खास था। औपचारिक कार्यक्रमो΄, भाषणो΄ से परे राजस्थान पत्रिका के इस अभियान ने बेटिया΄ खूब सराह रही है΄। वही΄ पैरे΄ट्स का कहना है कि वह पल जीवन का सबसे यादगार पल होता है, जब आप अपने कार्यस्थल पर बेटी के साथ हों।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Pyc-aAAA

📲 Get Bundi News on Whatsapp 💬