जांच होने तक कोई भी नहीं करेगा निर्माण कार्य

  |   Balaghatnews

बालाघाट. वारासिवनी नगर पालिका क्षेत्र में हो रहे अवैध निर्माण कार्य को लेकर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व का सख्त रवैया सामने आया है। नगर पालिका क्षेत्र के लीजधारियों की बैठक स्थानीय नगरपालिका सभा कक्ष में आयोजित की गई थी। बैठक में अनुविभागीय अधिकारी संदीप सिंह ने नियम विरूद्ध हो रहे निर्माण कार्य के प्रति अपनी नाराजगी जताई। वहीं सख्त लहजे में अवैध निर्माण कार्य बंद करने की हिदायत दी। इस दौरान नगरपालिका अध्यक्ष विवेक पटेल, तहसीलदार कैलाश कन्नौजे, पार्षद विवेक ऐडे, सुनील जायसवाल, संदीप मिश्रा, तुलसी व्यास, मुख्य नगरपालिका अधिकारी राधेश्याम चौधरी सहित बड़ी संख्या में व्यापारी मौजूद थे।

जानकारी अनुसार नगर पालिका क्षेत्र में धड़ल्ले से हो रहे अवैध निर्माण कार्य की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद एसडीएम संदीप सिंह ने लीजधारियों और नियम विरूद्ध निर्माण कर रहे या निर्माण कर चुके हंै उन दुकानदारों बुलावाकर निर्माण कार्य बंद करने का फरमान सुनाया। हालांकि, कुछ व्यापारियों ने अनुविभागीय अधिकारी के समक्ष अपना पक्ष रखना चाहा। लेकिन एसडीएम ने सिरे से नकारते हुए एक कमेटी बनाकर जांच के बाद ही किसी निर्णय तक पहुंचने की बात कही। वहीं जांच किए जाने तक सभी प्रकार के निर्माण कार्य बंद किए जाने का आदेश दिए। एसडीएम ने कहा कि आज के बाद कोई भी निर्माण कर्ता एक ईंट भी जोड़ेगा तो उसकी लीज निरस्त करने की कार्रवाई के साथ पूरा निर्माण तोड़कर उसका मलमा जब्त कर लिया जाएगा। बैठक में पार्षद सुनील जायसवाल ने एसडीएम को जानकारी देते हुए बताया कि गत जुलाई में नगरपालिका परिषद द्वारा प्रस्ताव पारित किया गया था कि नगरपालिका परिक्षेत्र मेें जितने भी लीजधारी है और लीजानुसार जितनी भूमि आबंटित की गई है, नाप कराने के बाद बढ़ी हुई भूमि का राजस्व कर बढ़ाने की कार्रवाई की जाएगी। इस पर एसडीएम ने कहा कि कमेटी के द्वारा जांच के बाद कार्रवाई में इस बिंदु को ध्यान में रखा जाएगा।

फोटो - http://v.duta.us/BSrXwQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/zR12OAAA

📲 Get Balaghat News on Whatsapp 💬