पहली कार्रवाई से बचकर खुद को डॉक्टर बताते हुए, नर्सिंग होम में कर रहा था मरीजों का इलाज, जब खुलासा हुआ तो

  |   Jagdalpurnews

कोण्डागांव . जिला प्रशासन की टीम ने रविवार की सुबह छापेमार कार्रवाई करते हुए चिपावंड स्थिति एक झोलाछाप डॉक्टर के नर्सिंग होम में कार्रवाई करते हुए उसे सील कर दिया। जानकारी के मुताबिक ग्रामीणों से मिली शिकायत के बाद रविवार को एसडीएम, तहसीलदार, सीएमएचओ, पुलिस व कोटवार की एक संयुक्त टीम बनाकर मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई। मौके पर झोलाछाप डाक्टर लच्छुराम चक्रधारी के अवैध तरीके से चलाए जा रहे नर्सिंग होम में पांच मरीज भर्ती थे, जबकि कुछ मरीज कतार में इलाज के लिए बैठे हुए थे। जब टीम मौके पर पहुंची तो झोलाछाप हड़बड़ा गया और उसने निर्धारित समय पर कोई वैध दस्तावेज नहीं दिखा पाया। जंाच के दौरान टीम को बड़ी मात्रा में उसके नर्सिंग होम से दवाईयों का जखीरा भी मिला है। जिसे जब्ती कर उसे इस अवैध नर्सिंग होम को नियमानुसार सील की कार्रवाई करते हुए उसे एसडीएम कोर्ट में पेश किया गया जहां से जमानत पर उसे बेल दे दिया गया हैं। बताया जा रहा है कि, झोलाछाप डाक्टर पर नर्सिंग होम एक्ट के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। आपको बता दें कि, इससे पहले भी इस डॉक्टर पर कार्रवाई की जा चुकी है, बावजूद इसके वह अपनी इस तरह की दुकानदारी करने से बाज नहीं आ रहा।...

फोटो - http://v.duta.us/7m84tQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ul50iwEA

📲 Get Jagdalpurnews on Whatsapp 💬