बूंदी में चिटफंड कम्पनियों ने 57 हजार लोगों को लगाई 65 करोड़ की चपत, बर्बादी के कगार पर पहुंचे हजारों परिवार

  |   Kotanews

बूंदी@ नागेश शर्मा. 'भरोसे में आकर मेहनत-मजदूरी कर एकत्र किया गांठ का पैसा जमा कराया था। अब जब इन कंपनियों में पैसा उलझ गया तो 24 साल की बेटी की शादी तक रुक गई। यह अकेली बूंदी की द्रौपदी बाई महावर की पीड़ा नहीं बल्कि 57 हजार लोग ऐसे हैं जो स्वयं को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। ( Chit Fund companies ) इन लोगों के पीएसीएल, समृद्ध जीवन मल्टी स्टेट मल्टी परपज को-ऑपरेटिव सोसायटी एवं लोट्स एग्रीकल्चर को-ऑपरेटिव सोसायटी कम्पनियां निवेश के नाम पर झांसा देकर करोड़ों रुपए ऐंठकर ले गई। जिले में इन तीन कम्पनियों के पास ही 65 करोड़ रुपए उलझ गए। अब इन कम्पनियों में निवेश करने वाले और एजेंट दोनों के ही घर बिकने की नौबत आ गई। इन लोगों को कुछ नहीं सूझ रहा।...

फोटो - http://v.duta.us/Sj_KuQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/gQesIAAA

📲 Get Kota News on Whatsapp 💬