सपा-बसपा के सामने यूपी विधानसभा उपचुनाव में होगी ये बड़ी चुनौती...

  |   Uttar-Pradeshnews

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में ऐसा पहली बार हो रहा है कि सभी सियासी पार्टियां उपचुनाव में जोर आजमाइश करेंगी. जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद यूपी में होने वाले विधानसभा उपचुनाव पहली बार मोदी सरकार का लिटमस टेस्ट होगा, वहीं पहली बार उपचुनाव में भाग्य आजमा रही बसपा के लिए यह अस्तित्व की लड़ाई है. उपचुनाव में फिलहाल सपा ने अब तक 3 प्रत्याशी घोषित किये हैं. जबकि बहुजन समाज पार्टी 11 सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा पहले ही कर दी है.

विपक्ष में एक बिखराव की स्थिति

न्यूज18 यूपी के पॉलिटिकल एडिटर मनमोहन राय कहते हैं कि वर्तमान में विपक्ष में एक बिखराव की स्थिति बनी हुई है. उन्होंने कहा कि बिखराव की स्थिति में विपक्ष के लिए नतीजे अनुकूल नहीं होंगे. राय के मुताबिक विपक्ष को एक और बड़ा झटका उपचुनाव में लग सकता है. ऐसे में सत्तापक्ष के सामने उपचुनाव जीतना सपा-बसपा के लिए खासा चुनौतीपूर्ण है. फिलहाल बीजेपी ने प्रत्याशियों के नाम का ऐलान नहीं किया हैं, इस सवाल पर बीजेपी एमएलसी विजय बहादुर पाठक ने कहा कि 30 सितंबर से पहले प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर दिया जाएगा. वहीं, जिलों में चुनाव कार्यालय खोले जा चुके है....

फोटो - http://v.duta.us/Df59YAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/mV9ozAAA

📲 Get UttarPradesh News on Whatsapp 💬