स्वच्छता का संदेश देने वाले गिद्धों की बढ़ रही है तादाद

  |   Jaisalmernews

जैसलमेर/लाठी. क्षेत्र के पर्यावरण प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है। प्रकृति में स्वच्छता का संदेश देने वाले गिद्धों की क्षेत्र में संख्या बढ़ रही है। गिद्धों की तादाद बढ़ाने व आमजन को जागरुक करने के लिए इआरडीएस फाउण्डेशन की ओर से गिद्ध संरक्षण एवं जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। गौरतलब है कि भारत में गिद्धों की आठ प्रजातियां पाई जाती है। पश्चिमी राजस्थान में सात प्रजातियों को चिह्नित किया गया है। गिद्धों का मुख्य भोजन मृत पशु होता है तथा एक मृत पशु पर दर्जनों की संख्या में गिद्धों का झुण्ड उमड़ पड़ता है, जो कुछ ही समय में मृत पशु के शव को चट कर जाता है। ऐसे में गिद्ध प्रकृति के सफाईकर्मी माने जाते है और पारिस्थितिकी तंत्र की अहम कड़ी है। फाउण्डेशन के अध्यक्ष व वैज्ञानिक डॉ.ममता, क्षेत्रीय समन्वयक राधेश्याम पेमाणी व वैज्ञानिक सलाहकार डॉॅ.सुमित डूकिया की ओर से जिले में गिद्ध की संख्या व स्थानों को चिन्हित किया जा रहा है।...

फोटो - http://v.duta.us/zTUt_AAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/dif9ewAA

📲 Get Jaisalmer News on Whatsapp 💬