अब अजीत जोगी के खिलाफ दूसरी एफआईआर दर्ज, तात्कालीन तहसीलदार का शपथ पत्र सामने आने पर मची खलबली

  |   Bilaspur-Chattisgarhnews

बिलासपुर. पूर्व मुख्यमंत्री व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के मुखिया अजीत प्रमोद जोगी के खिलाफ धोखाधड़ी का एक और मामला गुरुवार को दर्ज हुआ। इस बार भाजपा नेत्री समीरा पैकरा की शिकायत पर गौरेला थाने में धोखाधड़ी व कूचरचना का मामला दर्ज हुआ है। समीरा ने पेण्ड्रा रोड तहसील कार्यालय से सन 1967-68 में जाति जाति प्रताण पत्र में कूटरचना कर विधायक बनने का आरोप लगाया है। विदित हो कि पूर्व में समीरा की शिकायत पर दर्ज हुए मामले में अमित जोगी अभी जेल में हैं। गौरेला पुलिस के अनुसार ग्राम उमरखोही निवासी व भाजपा नेत्री समीरा पैकरा पिता गंगाराम कंवर ने गुरुवार को थाने में शिकायत दर्ज कराई, जिसमें समीरा ने बताया कि अजीत प्रमोद कुमार जोगी पिता काशी प्रसाद जोगी वर्तमान में आरक्षित जाति के लिए मरवाही विधानसभा सीट से विधायक हैं। अजीत जोगी यह जानते हुए कि वे अनूसूचित जनजताति वर्ग के नहीं है इसके बाद भी उन्होंने राजनीतिक व अन्य लाभ अनुचित रूप से लेने के लिए अनूसूचित जनजाति का खुद को बताकर सन 1967-68 में पेण्ड्रा रोड तहसील कार्यालय से जारी जाति प्रमाण पत्र में कूटरचना कर अनुसूचित जनजाति का फर्जी प्रमाण पत्र बनवाया था। इसी फर्जी जाति प्रमाण पत्र के बूते अजीत जोगी ने आरक्षित सीट मरवाही विधानसभा का चुनाव जीता था। फर्जी जाति प्रमाण से विधायक बनकर अजीत जोगी ने शासन से अनुचित पद और लाभ लिया। जोगी ने जाति प्रमाण पत्र में पेण्ड्रारोड तहसील कार्यालय में 1967-68 में पदस्थ रहे तत्कालीन नायब तहसीलदार पतरस तिर्की का हस्ताक्षर व सील लगाया है साथ ही प्रताण पत्र नायब तहसीलदार पतरस तिर्की द्वारा 6 जून 1967 को जारी होने तिथि लिखी है। जबकि पतरस तिर्की ने अपने शपथ पत्र में अजीत जोगी के नाम पर जाति प्रमाण पत्र जारी नहीं करना स्वीकार किया है। अजीत जोगी का जाति प्रमाण पत्र झूठा है। समीरा ने पतरस तिर्की का शपथ पत्र कोर्ट में प्रस्तुत करते हुए अजीत जोगी पर जान बूझकर धोखाधड़ी करने की नीयत से फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवाने का आरोप लगाते हुए अपराध दर्ज करने की मांग की। शिकायत पर पुलिस ने अजीत जोगी के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 471 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।...

फोटो - http://v.duta.us/uHFYPgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Is8j2wAA

📲 Get Bilaspur-Chattisgarhnews on Whatsapp 💬