कैंसर के डर से नॉनवेज शौकीन खाने लगे दाल, दक्षिण एशिया के देश इसलिए अपना रहे हैं इंडियन मॉडल

  |   Kanpurnews

जो लोग मांसाहारी भोजन के शौकीन रहे हैं, वे अब कैंसर के डर से दालों को खा रहे हैं। इससे दालों की मांग देश के अंदर दक्षिण एशिया में बढ़ रही है। दक्षिण एशियाई देश दालों के इस्तेमाल और उत्पादन के इंडियन मॉडल को अपना रहे हैं। दालों में सबसे अधिक चना पसंद किया जा रहा है।

भारतीय दलहन संस्थान के 26वें स्थापना दिवस के मौके पर निदेशक डॉ. नरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि 20 सालों में दालों की सात सौ प्रजातियां विकसित हुई हैं। इसके साथ ही एशिया के अलावा अन्य देशों में भी दालों का निर्यात बढ़ रहा है। इस मौके पर विज्ञानियों को पुरस्कार वितरित किए गए।...

फोटो - http://v.duta.us/uHhA0wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/0YoomwAA

📲 Get Kanpur News on Whatsapp 💬