कहीं नाला तो कहीं बिल्कुल ही गायब हो गई सोत नदी

  |   Budaunnews

बदायूं। मुरादाबाद के जौधा से निकलने वाली सोत नदी की कुल लंबाई कहने को तो 220 किलोमीटर है, मगर कुछ ही हिस्से में यह नदी लगती है। ज्यादातर हिस्सा तो नाले में बदल चुका है या फिर सूखा नजर आता है। जगह-जगह जल स्त्रोतों के कारण अस्तित्व में आई इस नदी में जब कचरा फेंके जाने लगा तो ये स्त्रोत बंद होते चले गए और यह सूखती चली गई। नतीजा यह हुआ कि नदी के सूखे हुए हिस्सों पर लोगों ने कब्जा कर लिया।

जिले में कभी अपनी निर्मल धारा के रूप में पहचान रखने वाली सोत नदी आज अपने अस्तिव को लगभग खो चुकी है। मुरादाबाद का जौधा इसका उद्गम स्थल माना जाता है, क्योंकि जौधा से पहले सोत नदी का कहीं भी अस्तिव सामने नहीं आता है। इस नदी की सबसे खास बात यह है कि इसके खुद के कई प्राकृतिक जलस्त्रोत हैं, जिसकी वजह से इसमें हमेशा पानी हमेशा बहता रहता था।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/sS_L7gAA

📲 Get Budaun News on Whatsapp 💬