छात्रों में सादगी और अनुशासन आवश्यक

  |   Satnanews

सतना. यदि हम सैनिक की भांति प्राप्त दायित्वों का निर्वाहन निष्ठा पूर्वक करते हैं, तो यही राष्ट्रभक्ति होती है। छात्रों को राष्ट्रभक्ति निष्ठा और लगन से अध्ययन करना है। इसके लिए सादगी और अनुशासन आवश्यक है। यह बाते बुधवार को सरस्वती केशव नगर धवारी में आयोजित चलित पदक सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि भारत विकास परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री राहुल जैन ने कही। कार्यक्रम का शुभारंभ सांस्कृतिक कार्यक्रम और सरस्वती वंदना से हुई। अतिथि स्वागत व परिचय विद्यालय के प्राचार्य रामप्रकाश मिश्रा द्वारा किया गया। मांडवी त्रिपाठी द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। इसके बाद कक्षा पहली से बारहवीं तक के परीक्षा में पहला स्थान पाने वाले भैया-बहनों को चलित पदक प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस बीच विद्यालय के परीक्षा प्रभारी अच्छेलाल सिंह चंदेल ने बताया कि यह चलित पदक अगली परीक्षा तक के लिए प्रदान किए गए हैं। अगली परीक्षा में जो स्टूडेंट्स पहला स्थान प्राप्त करेंगे, यह चलित पदक वापस कर उन्हें प्रदान किए जाएंगे। इसका उद्देश्य स्टूडेट्स में प्रतिस्पर्धा की भावना को जागृत व पठन पाठन में रुचि विकसित करना है।

फोटो - http://v.duta.us/NgI9vAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/FiZENQAA

📲 Get Satna News on Whatsapp 💬