नम आंखों व भावुक गीतों के साथ भक्तों ने मां नंदा को किया कैलाश के लिए विदा

  |   Dehradunnews

खास बातें

नंदा तेरी जात कैलाश लिजौला सजी-धजीक...ऊंचा कैलाश मां बेटी, कनक्वे रेली तू। जैसे भावुक गीत गाकर भक्तों ने मां नंदा को कैलाश के लिए विदा किया। इसी के साथ पर्यटन ग्राम रामणी में तीन दिवसीय नंदा मेले का सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ शुभारंभ हो गया है। इस दौरान विभिन्न गांवों की महिला मंगल दल की टीमों ने चांछरी, झुमेलो व लोकनृत्य की शानदार प्रस्तुति दी।

रामणी गांव में मां नंदा की लोकजात यात्रा के दौरान आयोजित तीन दिवसीय मेले का शुभारंभ विधायक प्रतिनिधि शंभू प्रसाद और निवर्तमान जिला पंचायत सदस्य दर्शन सिंह ने किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पहाड़ की थाती और माटी से जुड़ाव ही मां नंदा के प्रति स्थानीय ग्रामीणों की सच्ची भक्ति है। इस दौरान महिला मंगल दल पाणा, ईराणी, रामणी, घूनी, पडेरगांव, कनोल, सुतोल, कांडा, जाखणी, धुर्मा, सैंती, सुंग, ल्वाणी, लुंतरा और कुरुड़ गांव की महिलाओं ने नंदा तेरी जात, लिजौला सजी-धजीके.., नंदा हिंवाली झुमेके लो.., मां नंदा की जात..., ऊंचा कैलाश मां बेटी, कनक्वे रेली तू.., नाच-नाच चंद्रावती, चंदन की चौकी... जैसे गीतों की प्रस्तुति दी। मेले में स्वास्थ्य विभाग, कृषि और उद्यान विभाग की ओर से अपने-अपने स्टॉल भी लगाए गए, जिसमें ग्रामीणों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जा रही है। साथ ही मेला कमेटी की ओर से जिला स्तरीय वालीबाल और कैरम प्रतियोगिता का आयोजन भी किया जा रहा है। इस मौके पर मेला कमेटी अध्यक्ष मोहन सिंह पंवार, संरक्षक पूर्व ब्लॉक प्रमुख कर्ण सिंह, बसंती देवी, सूरज पंवार, रणवीर नेगी, नंदिता रावत, सुलोचना देवी, स्वांरी देवी, माहेश्वरी, नंदा बल्लभ गौड़, विनोद सती आदि मौजूद थे। संचालन दिनेश व विक्रम पंवार ने किया।...

फोटो - http://v.duta.us/U6fBbQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/46gy3QAA

📲 Get Dehradun News on Whatsapp 💬