‘अन्याय का मुकाबला करके महिलाएं बने अपराजिता’

  |   Lakhimpur-Kherinews

शाहजहांपुर। राज्य महिला आयोग की सदस्य सुनीता बंसल ने कहा कि महिलाओं को अपने अधिकारों के लिए जागरूक होना होगा। तभी वह अन्याय का मुकाबला करके अपराजिता बन सकेंगी। वह शुक्रवार को अमर उजाला के अपराजिता-100 मिलियन स्माइल्स के तहत जीएफ कॉलेज में आयोजित महिलाओं के अधिकार और सुरक्षा विषय पर आयोजित सेमिनार को संबोधित कर रहीं थीं।

उन्होंने कहा कि कुछ समय से आयोग में सबसे ज्यादा मामले लड़कियों के शारीरिक शोषण से संबंधित आ रहे हैं। इससे बचने का एक मात्र रास्ता है कि उन्हें खुद जागरूक व सशक्त बनना होगा। तभी ऐसे मामलों में कमी आएगी। छात्राओं से कहा कि उनके साथ कभी भी कोई घटना होती है तो वह तत्काल अपने अभिभावकों को अथवा महिला हेल्प लाइन को अवगत कराएं। जिससे समय पर कार्रवाई की जा सके। उन्होंने महिला हिंसा की बढ़ती घटनाओं को रोकने के लिए जागरूक रहने पर जोर दिया। कहा ऐसे मामलों पर उनके व्हाट्सएप नंबर 6306511708 पर शिकायत आधार कार्ड के साथ डालकर दर्ज करा सकती हैं। इस पर तत्काल कार्रवाई होगी। डीपीओ ज्योति शाक्य ने छात्राओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहने की सलाह दी। लक्ष्मीबाई विंग की संस्थापक डा. नमिता सिंह, प्राचार्य डा. अकील अहमद ने कहा कि अपराजिता जैसे कार्यक्रमों के माध्यम से छात्राओं में आत्मविश्वास पैदा होगा। वह शोषण के खिलाफ आवाज उठाने से हिचकिचाएंगी नहीं। महिला थाना प्रभारी परमेश्वरी ने छात्राओं को डायल 100, टोल फ्री नंबर 1090, 1098 और 112 के बारे में भी बताया। जिन पर शिकायत कर वह पुलिस की मदद ले सकती हैं। इस मौके पर डॉ. अमित सिंह, डॉ. मकसूद सिद्दीकी, डॉ. फैयाज अहमद, डॉ. शबाना, वीना सिंह, विम्मी सैनी, नीतू कुमरा, पूनम धवन, शालिनी राणा आदि मौजूद रहीं।

फोटो - http://v.duta.us/DvoBKwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/B1gt_AAA

📲 Get Lakhimpur Kheri News on Whatsapp 💬