उन्नाव दुष्कर्म केस : पीड़िता का बयान दर्ज करने को एम्स में बनेगी अस्थायी अदालत

  |   Delhi-Ncrnews

उन्नाव दुष्कर्म मामले में पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए एम्स में अस्थायी अदालत बनेगी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दिल्ली हाईकोर्ट ने देर शाम विशेष कोर्ट के गठन की अधिसूचना जारी कर दी।

इसमें कहा गया कि हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डीएन पाटिल ने आदेश दिया है कि मामले की सुनवाई कर रहे विशेष जज धर्मेश शर्मा पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए एम्स के ट्रॉमा सेंटर के परिसर/बिल्डिंग में कोर्ट लगा सकते हैं। रायबरेली के पास सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल पीड़िता का एम्स में इलाज चल रहा है।

जज धर्मेश शर्मा ने हाईकोर्ट को पत्र लिखकर अस्थायी कोर्ट गठित करने की मांग की थी। शर्मा ने हाईकोर्ट को बताया था कि सीबीआई, पीड़िता और उसके परिवार को इसमें आपत्ति नहीं है।...

फोटो - http://v.duta.us/BIv4nQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/aLzWCAAA

📲 Get Delhi NCR News on Whatsapp 💬