एमएसएमइ सेक्टर को उभारने के लिए मदद की दरकार

  |   Bhilwaranews

भीलवाड़ा।

MSME Sector इन दिनों टेक्सटाइल उद्योग कठिन दौर से गुजर रहा है। जीडीपी नीचे जाने के बाद सरकार ने उद्योगों के प्रमुख लोगों से मिलने का सिलसिला शुरू कर दिया है। खास कर एमएसएमई सेक्टर को बूस्ट देने के लिए एमएसएमई मंत्रालय और वित्त मंत्रालय ने उद्यमियों से चर्चा शुरू कर दी है। एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी से मिलकर लद्यु उद्योग भारती के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश मित्तल उद्योगों को राहत देने की मांग की है। लद्यु भारती ने बैंक से उद्योगों को मिलने वाले लोन का 50 प्रतिशत एमएसएमई को देने की मांग की।

MSME Sector टेक्सटाइल की मौजूदा स्थिति यह है कि बैंकों की ओर से एमएसएमई सेक्टर की इकाइयों को लोन मिलना मुश्किल हो गया है। एमएसएमई सेक्टर की मांग है कि बैंकों से जो लोन दिया जाता है, उसमें 50 प्रतिशत फंड एमएसएमई सेक्टर के लिए रिजर्व रखा जाए। टेक्सटाइल सेक्टर को कैपिटल लोन मिलना मुश्किल हो गया है। विदेशी मुद्रा में लोन मिलता था, उसमें भी बैंक ने रिस्ट्रक्चर कर ब्याज दर बढ़ा दी है। टेक्सटाइल से जुड़ी कई इकाइयां एमएसएमई सेक्टर में हैं। इनके कारोबार 40 प्रतिशत तक की कमी आई है।...

फोटो - http://v.duta.us/0OKIJwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/l7xGVgAA

📲 Get Bhilwara News on Whatsapp 💬