खेल🏏 जगत ने किया इसरो के हौसले 👍को सलाम

  |   क्रिकेट / Punjabcricket

पूरे भारतवर्ष के लिए शुक्रवार देर रात बेहद निराशाजनक गुजरी। चंद्रयान-2 के चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने से महज 2.1 किमी पहले कंट्रोल रूम का संपर्क टूट गया। पूरा देश रात तकरीबन 2 बजे इस वाकये को टकटकी लगाए देख रहा था। लेकिन एक रोमांचक क्रिकेट मैच की तरह इस अभियान का दु:खद अंत हो गया। इसरो सेंटर में मौजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर इसरो के कर्मचारी, पत्रकार, छात्र और आम लोग सभी के चेहरे पर निराशा नजर आ रही थी।

यहां देखें विराट कोहली का टि्वट-http://v.duta.us/5k5jVgAA

ऐसे में सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ आ गई। भारतीय खेल जगत की हस्तियों ने भी इसरो का हौसला बढ़ाया। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने ट्वीट कर कहा, 'विज्ञान में असफलता नाम की कोई चीज नहीं होती। हम प्रयोग करते हैं और कुछ हासिल करते हैं। इसरो के वैज्ञानिकों के प्रति मेरे मन में अपार सम्मान है जिन्होंने अपने दिन रात एक कर दिए। देश को आप सभी पर गर्व है। जय हिंद।'

यहां देखें गौतम गंभीर का टि्वट-http://v.duta.us/mBXEnQAA

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और लोकसभा सांसद गौतम गंभीर ने ट्विटर पर लिखा, 'ये तब ही एक नाकामयाबी होगी, यदि हम इससे सीखे नहीं। हम मजबूती से वापसी करेंगे। मैं इसरो की टीम के जज्बे को सलाम करता हूं, जिन्होंने करोड़ों भारतीयों की उम्मीदों को एक किया। अभी उनका सर्वश्रेष्ठ आना बाकी है।'

यहां देखें सहवाग का टि्वट-http://v.duta.us/axx4zgAA

वहीं नजफगढ़ के नवाब के नाम से जाने जाने वाले पूर्व क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग ने लिखा, 'ख्वाब अधूरा रहा पर हौसले जिंदा हैं, इसरो वो है, जहां मुश्किलें शर्मिदा हैं। हम होंगे कामयाब।' वहीं टीम इंडिया के गब्बर शिखर धवन ने कहा, टीम इसरो, आपकी कड़ी मेहनत के लिए हमें आप पर गर्व है। आप हारे नहीं हैं, हमें और करीब ले गए हैं। इस उम्मीद को जिंदा रखें।'

वहीं महिला पहलवान गीता फोगाट ने लिखा, 'लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती। पूरे भारत वर्ष को इसरो पर गर्व है।' स्टार पहलवान योगेश्वर दत्त ने लिखा, 'हमें गर्व है अपने वैज्ञानिकों पर और यकीन है की अगले प्रयास में सफलता जरूर मिलेगी। जय हिंद, जय भारत।'

यहां पढ़ें पूरी खबर-http://v.duta.us/gVigIgAA

📲 Get क्रिकेट on Whatsapp 💬