घायल फैक्टरी श्रमिक की मौत, हंगामा

  |   Unnaonews

सोनिक। लखनऊ-कानपुर हाईवे पर दही चौकी औद्योगिक क्षेत्र में वाहन की चपेट में आकर छह दिन पहले घायल बिस्कुट फैक्टरी श्रमिक की इलाज के दौरान गुरुवार की रात मौत हो गई। शुक्रवार को मुआवजे की मांग को लेकर ग्रामीणों की मदद से परिजनों ने फैक्ट्री गेट पर शव रखकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद फैक्टरी प्रबंधन ने मुआवजे का आश्वासन दिया तब हंगामा शांत हुआ।

सदर कोतवाली के अटवा पतारी गांव निवासी दीपू (40) पुत्र विश्राम दही चौकी स्थित एग्रो फूड्स फैक्टरी में मजदूरी करता था। 31 अगस्त को फैक्टरी में रात्रि ड्यूटी के दौरान चाय पीने के लिए फैक्टरी से निकला और सड़क की दूसरी तरफ स्थित होटल में खाना खाने के लिए जा रहा था। हाईवे पर सड़क पार करते समय किसी वाहन की चपेट में आकर वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घरवालों ने उसे कानपुर के हैलट अस्पताल में भर्ती कराया। गुरुवार रात इलाज के दौरान मौत हो गई। शुक्रवार को परिजन व ग्रामीण शव लेकर फैक्टरी पहुंचे और मुआवजे की मांग को लेकर शव को फैक्टरी गेट पर रखकर हंगामा शुरू कर दिया। दोपहर बाद फैक्टरी के प्रबंधक राजेश चौधरी ने 10 हजार रुपये अंतिम संस्कार के लिए नगद और एक सप्ताह बाद पांच लाख का चेक देने का आश्वासन दिया। इसके बाद परिवार के लोग शांत हुए और शव को अंतिम संस्कार के लिए लेकर गए। मृतक की पत्नी राजकुमारी पांच बच्चों के भविष्य की चिंता में रो-रोकर बेहाल है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/wboeKQAA

📲 Get Unnao News on Whatsapp 💬