जितनी तत्परता जिला प्रशासन ने एफआईआर दर्ज कराने में दिखाई थी। उतनी तत्परता पुलिस नहीं दिखा रही

  |   Bilaspur-Chattisgarhnews

बिलासपुर. जाति प्रमाण पत्र मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के खिलाफ जितनी तत्परता जिला प्रशासन ने एफआईआर दर्ज कराने में दिखाई थी। उतनी तत्परता पुलिस नहीं दिखा रहीं है। सिविल लाइन थाने में सप्ताहभर पहले दर्ज मामले में सिविल लाइन पुलिस ने कोई पहल नहीं की है। अब इस मामले की जांच करने टीम बनाई जाएगी। दूसरी तरफ जकांछ के प्रदेश अध्यक्ष व फर्जी जन्म स्थान प्रमाण पत्र मामले में जेल में बंद अमित जोगी का ब्लडपे्रशर हाई होने पर गौरेला के सेनेटोरियम अस्पताल से यहां रात साढ़े 10 बजे सिम्स के आईसीयू में दाखिल कराया गया है। वहीं जकांछ के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को सेवानिवृत्त नायब तहसीलदार के खिलाफ फर्जी शपथ पत्र देने के मामले में सरकंडा और गौरेला थाने में अलग -अलग शिकायतें दर्ज कराई गई। सेवानिवृत्त नायब तहसीलदार के नेहरू नगर निवास में शुक्रवार को दिनभर ताला लटका रहा।...

फोटो - http://v.duta.us/hEDHvwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/8_hb-wAA

📲 Get Bilaspur-Chattisgarhnews on Whatsapp 💬